Saturday, 12 August 2017

एक किताब की तरह हूँ मैं, 📖 कितनी भी पुरानी हो जाए...📜 पर उसके अलफ़ाज़ नहीं बदलेंगे... 📄 कभी याद आये तो, पन्ने पलट कर देखना...📓 हम आज जैसे है, कल भी वैसे ही मिलेंगे... 📚 #athingaday 🌹🌼💐✅😇✅💐🌼🌹



August 12, 2017 at 06:56PM http://bit.ly/2wRD8HU